Admin+9759399575 ; Call आचार्य
शादी - विवाह, नामकरण, गृह प्रवेश, काल सर्प दोष , मार्कण्डेय पूजा , गुरु चांडाल पूजा, पितृ दोष निवारण - पूजा , महाम्रत्युन्जय , गृह शांति , वास्तु दोष

अनुष्‍का और विराट के बेटे की कुंडली में बन रहा है राजा बनने का योग, चारों दिशाओं में होगा उसका नाम

15 फरवरी को विराट कोहली और अनुष्‍का शर्मा के घर बेटे ने जन्‍म लिया है। दोनों ने 20 फरवरी को सोशल मीडिया पर पोस्‍ट कर के यह खुशखबरी दी है। इसके साथ ही अनुष्‍का और विराट ने अपने बेटे का नाम भी बताया है।

इस ब्‍लॉग में विस्‍तार से बताया गया है कि 15 फरवरी को ग्रहों और सितारों की स्थिति क्‍या थी और अनुष्‍का-विराट के बेटे के नाम का क्‍या अर्थ है।

भविष्य से जुड़ी किसी भी समस्या का समाधान मिलेगा विद्वान ज्योतिषियों से बात करके  

15 फरवरी को ग्रहों की स्थिति

ज्‍योतिषशास्‍त्र के अनुसार 15 फरवरी को चंद्रमा मेष राशि में उपस्थित थे और देवताओं के गुरु बृहस्‍पति भी इसी राशि में गोचर कर रहे थे। इससे मेष राशि में गजकेसरी योग का निर्माण होता है जिसे बहुत शुभ माना जाता है। इसके साथ ही 15 फरवरी को सूर्य और शनि कुंभ राशि में एक साथ उपस्थित थे। इसके अलावा इस दिन मंगल, बुध और शुक्र मकर राशि में गोचर कर रहे थे। 15 फरवरी को केतु कन्‍या राशि में थे और राहु मीन राशि में गोचर कर रहे थे।

बृहत् कुंडली में छिपा है, आपके जीवन का सारा राज, जानें ग्रहों की चाल का पूरा लेखा-जोखा 

क्‍या है गजकेसरी योग

ग्रहों की स्थिति के अनुसार जिस दिन विराट और अनुष्‍का के बेटे का जन्‍म हुआ है, उस दिन मेष राशि में गुरु और चंद्रमा की युति से गजकेसरी योग बन रहा था। वैदिक ज्‍योतिष के अनुसार गजकेसरी योग सबसे शक्‍तिशाली योगों में से एक है और इसे राजयोग में स्‍थान दिया गया है। जब गुरु और चंद्रमा एकसाथ युति में होते हैं या इनकी एक-दूसरे पर सीधे दृष्टि पड़ रही हो, तब गजकेसरी योग का निर्माण होता है। जिन बच्‍चों का जन्‍म गजकेसरी योग में होता है, वे बहुत बुद्धिमान होते हैं और समाज में प्रतिष्‍ठा पाते हैं। इन्‍हें अपने करियर में असीम सफलता मिलती है।

आपकी कुंडली में भी है राजयोग? जानिए अपनी  राजयोग रिपोर्ट

कैसा होगा बच्‍चे का जीवन

मेष राशि में जन्‍म होने की वजह से बच्‍चे का मूल ग्रह मंगल मकर राशि में उपस्थित है। मकर मंगल की उच्‍च राशि है इसलिए अनुष्‍का और विराट के बेटे को अपने जीवन में खूब सफलता देखने को मिलेगी। उसे ऐशो-आराम और सुख-सुविधाओं की कोई कमी नहीं रहेगी।

वैसे तो विराट और अनुष्‍का के बेटे के जन्‍म के सटीक समय की जानकारी नहीं है किंतु चंद्र राशि के आधार पर यह कहा जा सकता है कि इस बालक की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी और वह भी अपने माता-पिता की तरह खूब प्रगति करेगा। वह पढ़ाई में होशियार होगा और करियर में उसे अच्‍छी सफलता मिलने के योग हैं।

पाएं अपनी कुंडली आधारित सटीक शनि रिपोर्ट

अंकज्‍योतिष के अनुसार मूलांक

अंकज्‍योतिष के मुताबिक 15 तारीख को जन्‍म लेने वाले जातकों का मूलांक 6 होता है एवं इस अंक के स्‍वामी ग्रह शुक्र हैं। शुक्र को शुभ ग्रह माना गया है इसलिए अनुष्‍का और विराट के बेटे को शुक्र से संबंधित सभी क्षेत्रों में शुभ एवं सकारात्‍मक परिणाम देखने को मिलेंगे। इतना ही नहीं अपने माता-पिता के लिए भी यह संतान भाग्‍यशाली साबित होगी।

करियर की हो रही है टेंशन! अभी ऑर्डर करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट

अनुष्‍का और विराट के बेटे का नाम क्‍या है

विराट और अनुष्‍का ने अपने बेटे का नाम अकाय रखा है। इस नाम का अर्थ होता है जिसका कोई आकार न हो या जो निराकार हो। इनकी बेटी का नाम वामिका है जो कि मां दुर्गा का ही एक नाम है।

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: ऑनलाइन शॉपिंग स्टोर

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह ब्लॉग ज़रूर पसंद आया होगा। अगर ऐसा है तो आप इसे अपने अन्य शुभचिंतकों के साथ ज़रूर साझा करें। धन्यवाद!

The post अनुष्‍का और विराट के बेटे की कुंडली में बन रहा है राजा बनने का योग, चारों दिशाओं में होगा उसका नाम appeared first on AstroSage Blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *