Admin+9759399575 ; Call आचार्य
शादी - विवाह, नामकरण, गृह प्रवेश, काल सर्प दोष , मार्कण्डेय पूजा , गुरु चांडाल पूजा, पितृ दोष निवारण - पूजा , महाम्रत्युन्जय , गृह शांति , वास्तु दोष

गलत दिशा में रखेंगे दवाएं, तो बीमारी का सिलसिला कभी नहीं होगा खत्म

कहा जाता है कि पहला सुख निरोगी काया. लेकिन आज के समय में ये सुख प्राप्त कर पाना आसान नहीं. गलत लाइफस्टाइल (Bad Lifestyle), खानपान, फैमिली हिस्ट्री आदि के कारण कम उम्र में ही लोगों को कई तरह की बीमारियां (Diseases) घेरने लगी हैं, जिसके कारण परिवार में कोई न कोई समस्या लोगों को लगी ही रहती है. लेकिन कई बार आप लाख जतन करके भी अपनी परेशानियों से मुक्ति नहीं पा पाते. तमाम इलाज और लाइफस्टाइल में बदलाव करने के बावजूद बीमारी पर दवाएं असर नहीं करती और परेशानी बढ़ती जाती है. अगर आपके साथ भी ऐसी परेशानी हो रही है, तो इसका कारण आपके घर का वास्तु दोष (Vastu Dosh)  भी हो सकता है.

वास्तु में ​सूर्य की किरणों और दिशाओं को विशेष महत्व दिया गया है. ऐसे में दवाओं को रखने के लिए खास दिशा के बारे में बताया गया है. अगर आप दवा को गलत दिशा में रखते हैं, तो उसका आपके जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है और संभव है कि काफी इलाज कराने के बाद भी आपको बहुत आराम न मिले. ऐसे में यहां जानिए उन दिशाओं के बारे में जहां दवा कभी नहीं रखनी चाहिए.

इन दिशाओं में कभी न रखें दवाएं

वास्तु के अनुसार, घर में दक्षिण-पूर्व और दक्षिण दिशा में दवाओं को भूलकर भी नहीं रखना चाहिए. माना जाता है कि इन दिशा में दवा रखने से दवा खाने का सिलसिला कभी बंद नहीं होता है. ऐसे में बीमारी लंबे समय तक बनी रहती है और व्यक्ति का शारीरिक और आर्थिक नुकसान होता है.

कुछ लोग कई बार अपनी दवाएं रखने की जगह बना लेते हैं, या कुछ नहीं तो फर्स्ट एड बॉक्स रख देते हैं. लेकिन वास्तु के हिसाब से ये ठीक नहीं है. इससे सेहत पर बुरा असर होता है. ऐसे में घर के सदस्यों को कोई न कोई समस्या लगी ही रहती है.

दवाओं को अपने बेड के पास या सिरहाने रखने की गलती भी लोग अनजाने में अक्सर कर देते हैं. हालांकि लोग ऐसा अपने कंफर्ट के लिए करते हैं. लेकिन वास्तु के अनुसार राहु-केतु का संबंध रसायनों से माना जाता है. इस कारण दवाओं को सिरहाने या बेड के आसपास रखने से आपको राहु-केतु से संबन्धित परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं.

उत्तर और पश्चिम दिशा में भी दवाएं रखने से बचना चाहिए. माना जाता है कि इससे दवाओं का असर देर से होता है. ऐसे में बीमारी के गंभीर होने का डर रहता है, साथ ही व्यक्ति को काफी परेशानियां झेलनी पड़ती हैं.

जानिए किस दिशा में रखनी चाहिए दवाइयां

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर की उत्तर पूर्व दिशा को अच्छा माना जाता है, जिसे लोग ईशानकोण भी कहते हैं. अपने घर के लोगों को जल्दी स्वस्थ करने के लिए दवाओं को इसी दिशा में रखना चाहिए. इसके अलावा आपके घर का फर्स्ट एड बॉक्स भी इसी दिशा में रखा जाना चाहिए.

 

यह भी पढ़ें – Vastu tips: जानें घर में चांदी का कछुआ लगाने से जुड़े फायदे, नहीं सताती है धन की कमी !

यह भी पढ़ें – जानें भारत के उन मंदिरों के बारे में जहां साल में सिर्फ एक बार खुलते हैं कपाट!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *