Admin+9759399575 ; Call आचार्य
शादी - विवाह, नामकरण, गृह प्रवेश, काल सर्प दोष , मार्कण्डेय पूजा , गुरु चांडाल पूजा, पितृ दोष निवारण - पूजा , महाम्रत्युन्जय , गृह शांति , वास्तु दोष

मई 2024 में कब-कब है नामकरण संस्कार के शुभ मुहूर्त, यहाँ देखें तिथि और मुहूर्त

हिंदू धर्म में मनुष्य के जीवनकाल में सोलह संस्कार या समारोह संपन्न किए जाते हैं, विशेष रूप से नए जन्मे शिशु या छोटे बच्चों के लिए। इन्हीं संस्कारों में से एक होता है नामकरण संस्कार जो कि अत्यंत महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि इस समारोह में शिशु का नाम रखा जाता जाता है। अगर आप अपने शिशु का नामकरण संस्कार करना चाहते हैं, तो हम आपको यहाँ नामकरण की शुभ तिथियां प्रदान कर रहे हैं। एस्ट्रोसेज का यह ब्लॉग आपको मई 2024 में शिशु के नामकरण समारोह की शुभ तिथियां प्रदान कर रहा है। चलिए शुरुआत करते हैं इस ब्लॉग की और नज़र डालते हैं शुभ मुहूर्त पर। 

भविष्य से जुड़ी किसी भी समस्या का समाधान मिलेगा विद्वान ज्योतिषियों से बात करके     

धार्मिक एवं ज्योतिषीय दृष्टि से नामकरण संस्कार

धर्मग्रंथों में वर्णन किये गए 16 संस्कारों में से एक होता है नामकरण संस्कार जो कि शिशु के जन्म के बाद का पहला संस्कार होता है। इसी क्रम में, माता-पिता और परिवार के सदस्य द्वारा नामकरण संस्कार को शुभ घड़ी और शुभ समय पर किया जाता है, तो यह शिशु के जीवन को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। 

मान्यताओं के अनुसार, ऐसा कहा जाता है कि प्रत्येक मनुष्य का नाम अपने अंदर अपार ऊर्जा लिए हुए होता है। यह ऊर्जा शिशु को ब्रह्मांड की ऊर्जा के साथ जोड़ने और शारीरिक, मानसिक एवं आध्यात्मिक रूप से विकसित करने में सहायता करती है इसलिए नामकरण संस्कार को अत्यंत महत्वपूर्ण माना जाता है। धार्मिक और ज्योतिषीय दृष्टि से नामकरण संस्कार शिशु को बड़े होकर सामाजिक शक्ति प्राप्त करने में सहायता करता है। 

नामकरण संस्कार का धार्मिक और ज्योतिषीय महत्व जानने के बाद अब हम आपको अवगत करवाते हैं मई 2024 के नामकरण संस्कार के शुभ मुहूर्तों से। 

यह भी पढ़ें: राशिफल 2024

बृहत् कुंडली में छिपा है, आपके जीवन का सारा राज, जानें ग्रहों की चाल का पूरा लेखा-जोखा

मई 2024 में इन तिथियों पर नामकरण संस्कार करना रहेगा सबसे शुभ

जैसे कि हम जानते हैं कि सनातन धर्म में शुभ मुहूर्त और तिथि को विशेष स्थान प्राप्त है इसलिए यहाँ हर काम को शुभ मुहूर्त पर करने की परंपरा है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए हम आपको बताने जा रहे हैं कि मई 2024 में कब और किस तिथि पर कर सकते हैं आप इस नामकरण, तो आइए बिना देर किये जानते हैं शुभ मुहूर्त की तिथियां। 

मई 2024 में नामकरण संस्कार का पहला मुहूर्त: 01 मई 2024, बुधवार की सुबह 05 बजकर 40 मिनट से सुबह 03 बजकर 11 मिनट तक रहेगा। 

मई 2024 में नामकरण संस्कार का दूसरा मुहूर्त: 03 मई 2024, शुक्रवार की सुबह 05 बजकर 38 मिनट से रात 09 बजकर 24 मिनट तक रहेगा। 

मई 2024 में नामकरण संस्कार का तीसरा मुहूर्त: 05 मई 2024, रविवार की सुबह 05 बजकर 36 मिनट से अगली सुबह (06 मई) 05 बजकर 36 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का चौथा मुहूर्त: 06 मई 2024, सोमवार की सुबह 05 बजकर 36 मिनट से दोपहर 01 बजकर 14 मिनट तक रहेगा। 

मई 2024 में नामकरण संस्कार का पांचवां मुहूर्त: 09 मई 2024, गुरुवार की सुबह 11 बजकर 56 मिनट से अगली सुबह (10 मई) 05 बजकर 33 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का छठा मुहूर्त: 10 मई 2024, शुक्रवार की सुबह 05 बजकर 33 मिनट से रात 02 बजकर 52 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का सातवां मुहूर्त: 13 मई 2024, सोमवार की सुबह 11 बजकर 24 मिनट से रात 01 बजकर 29 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का आठवां मुहूर्त: 19 मई 2024, रविवार की सुबह 05 बजकर 27 मिनट से अगली सुबह (20 मई) 05 बजकर 27 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का नौवां मुहूर्त: 20 मई 2024, सोमवार की सुबह 05 बजकर 27 मिनट से अगली सुबह (21 मई) 05 बजकर 27 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का दसवां मुहूर्त: 23 मई 2024, गुरुवार की सुबह 09 बजकर बजकर 14 मिनट से अगली सुबह (24 मई) 05 बजकर 26 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का ग्यारहवां मुहूर्त: 24 मई 2024, शुक्रवार की सुबह 05 बजकर 25 मिनट से सुबह 10 बजकर 10 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का बारहवां मुहूर्त: 27 मई 2024, सोमवार की शाम 04 बजकर 56 मिनट से अगली सुबह (28 मई) 05 बजकर 24 मिनट तक रहेगा।

मई 2024 में नामकरण संस्कार का अंतिम मुहूर्त: 30 मई 2024, गुरुवार की सुबह 07 बजकर 31 मिनट से अगली सुबह (31 मई) सुबह 05 बजकर 23 मिनट तक रहेगा। 

वर्ष 2024 में हिंदू धर्म के सभी पर्वों एवं त्योहारों की सही तिथियां जानने के लिए क्लिक करें: हिंदू कैलेंडर 2024

नामकरण संस्कार के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

परिवार में नवजात शिशु का जन्म होने के साथ ही उसका जात कर्म आदि किया जाता है और इसके पश्चात सूतक लग जाता है। हालांकि, सूतक की अवधि में भिन्नता देखने को मिलती है। सामान्य रूप से शिशु का जन्म होने के 10 दिन बाद नामकरण संस्कार संपन्न करना शुभ होता है। आपको बता दें कि शिशु के जन्म से लेकर सातवें दिन तक के समय को भी नामकरण संस्कार के लिए उत्तम माना गया है। संभव हो, तो अपनी संतान का नामकरण संस्कार घर पर ही आयोजित करें। आपकी इच्छा होने पर आप शिशु का नामकरण समारोह किसी मंदिर में भी कर सकते हैं। 

सभी ज्योतिषीय समाधानों के लिए क्लिक करें: ऑनलाशॉपिंग स्टोर

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख ज़रूर पसंद आया होगा। अगर ऐसा है तो आप इसे अपने अन्य शुभचिंतकों के साथ ज़रूर साझा करें। धन्यवाद!

The post मई 2024 में कब-कब है नामकरण संस्कार के शुभ मुहूर्त, यहाँ देखें तिथि और मुहूर्त appeared first on AstroSage Blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *