Admin+9759399575 ; Call आचार्य
शादी - विवाह, नामकरण, गृह प्रवेश, काल सर्प दोष , मार्कण्डेय पूजा , गुरु चांडाल पूजा, पितृ दोष निवारण - पूजा , महाम्रत्युन्जय , गृह शांति , वास्तु दोष

20 फरवरी को मनाया जाएगा द्विजप्रिय संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत, चंद्रमा देखकर तोड़ेंगे व्रत, जानिये चंद्रोदय का समय

Dwijapriya Sankashti Ganesh Chaturthi: चतुर्थी 19 फरवरी को रात 9 बजकर 56 मिनट पर शुरू होगी। 20 फरवरी को रात 9.5 पर समाप्‍त होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *