Admin+9759399575 ; Call आचार्य
शादी - विवाह, नामकरण, गृह प्रवेश, काल सर्प दोष , मार्कण्डेय पूजा , गुरु चांडाल पूजा, पितृ दोष निवारण - पूजा , महाम्रत्युन्जय , गृह शांति , वास्तु दोष

Gupt Navratri 2022: गुप्त नवरात्रि पर आपकी माली हालत सुधार सकते हैं ये उपाय

माघ मास की गुप्त नवरात्रि (Gupt Navratri 2022) आज 2 फरवरी दिन बुधवार से शुरू हो रही है और 10 फरवरी, गुरुवार तक चलेगी. ये नवरात्रि तंत्र-मंत्र (Tantra-Mantra) आदि करने वालों के लिए विशेष मानी जाती है. इसलिए इसके व्रत आदि ग्रहस्थ परिवारों में नहीं रखे जाते. गुप्त नवरात्रि को विशेष सिद्धियां प्राप्त करने वाली नवरात्रि माना जाता है और इसकी पूजा भी गुप्त रूप से ही की जाती है. पूजा के मंत्र, पाठ और मनोकामना को भी गुप्त रूप से माता के समक्ष रखा जाता है. गुप्त नवरात्रि में माता के नौ रूपों की नहीं, बल्कि दस महाविद्याओं की पूजा होती है. अगर आप लंबे समय से आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, या नौकरी को लेकर परेशान हैं, तो आज से शुरू इस गुप्त नवरात्रि में कुछ विशेष उपाय (Gupt Navratri Upay) जरूर करें, ताकि आपकी समस्याएं जल्द से जल्द समाप्त हो सकें.

धन की कमी दूर करने के लिए

अगर आपके घर में धन संबन्धी परेशानियां हैं और काफी मेहनत के बावजूद आप इन परेशानियों को दूर नहीं कर पा रहे हैं तो इस नवरात्रि पर मातारानी के एक मंत्र का जाप करें. जाप कम से कम एक माला से लेकर अपनी श्रद्धानुसार मालाओं त​क किया जा सकता है. इसके अलावा भोजपत्र पर केसर की स्याही से दुर्गा अष्टोत्तर शतनाम लिखें. फिर उन नामों का उच्चारण करते हुए आहुति दें. हवन के बाद भोजपत्र चांदी में जड़वाकर ताबीज की तरह बनवा लें. इसे या तो पहन लें, या फिर तिजोरी में रख दें. इस उपाय के परिणाम जल्दी ही सामने आएंगे और धन आगमन के रास्ते खुलने लगेंगे.

मंत्र है – ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रीं महा मातंगी प्रचिती दायिनी, लक्ष्मी दायिनी नमो नमः

कर्ज से छुटकारे के लिए

अगर आपने किसी से कर्ज लिया है और किसी कारण से कर्ज उतार नहीं पा रहे हैं, तो नवरात्रि में आम की समिधा यानी लकड़ी से नौ दिनों तक हवन करें. इस दौरान गाय के घी में कमलगट्टे को डुबोकर दुर्गासप्तशती का पाठ करते हुए आहुति दें. आखिरी दिन नौ कन्याओं को प्रसाद के तौर पर मखाने की खीर खिलाएं. उन्हें दक्षिणा दें और पैर छूकर आशीर्वाद लें. अगर आपने इस काम को सफलतापूर्वक निपटा लिया तो आपको इसका काफी अच्छा फायदा मिलेगा.

अच्छी नौकरी पाने के लिए

अगर आप काफी समय से अच्छी नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो नवरात्रि में दुर्गासप्तशती के 12वें अध्याय के 21 बार पाठ करें. श्रद्धापूर्वक नौ कन्याओं को भोजन कराएं और माता से अपनी परेशानियों को दूर करने की प्रार्थना करें. कुछ ही समय में आपको शुभ समाचार मिल जाएगा.

परीक्षा में सफलता के लिए

अगर आप किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो गुप्त नवरात्रि में सुबह जल्दी उठकर स्नान करके सफेद रंग का सूती आसन बिछाएं और पूर्व दिशा की ओर मुंह करके उस पर बैठ जाएं. अपने सामने पीला कपड़ा बिछाकर उस पर 108 दानों वाली स्फटिक की माला रख दें और इस पर केसर व इत्र छिड़क कर इसका पूजन करें. इसके बाद धूप, दीप और अगरबत्ती दिखाएं. इसके बाद माता के मंत्र ‘ॐ ह्लीं वाग्वादिनी भगवती मम कार्य सिद्धि कुरु कुरु फट् स्वाहा’ का 31 बार उच्चारण करें. लगातार 11 दिनों तक ये क्रम दोहराएं. इससे वो माला सिद्ध हो जाएगी और आप किसी भी परीक्षा या इंटरव्यू के लिए इस माला को पहनकर जा सकते हैं. इससे आपका सौभाग्य आपके साथ रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *